Share on:

तेज़ी-मंदी अपडेट जनवरी 2022 : आज के इस लेटेस्ट तेजी मंदी अपडेट जनवरी 2022 में आपको सोयाबीन, सरसों, गेहूं (wheat price), सोया खली के भाव (soya oil cake) में आई तेजी के बारे में बताया जाएगा।

फिलहाल मंडियों के हाजिर भाव में ग्वार, सोयाबीन, सरसों और गेहूं में जोरदार तेजी (gwar, soyabean, mustard price hike) दर्ज की जा रही है।

सोया खली और सोयाबीन की कीमतों में तेजी

विदेशों में सोयाबीन और सोया खली की कीमतों (soya oil cake price hike) में बन रही है जोरदार तेजी, साउथ अमेरिका में खराब मौसम के चलते सोयाबीन की फसलों को नुकसान की आशंका बताई जा रही है।

यहां से देखें :- सरसों का मंडी भाव 2022

ब्राज़ील और अर्जेंटीना में मौसम इस बार सोयाबीन के अनुकूल बिल्कुल भी नहीं है और वहां पर सूखे की स्थिति ज्यादा देखने को मिल रही है जिससे सोयाबीन के उत्पादन पर सीधा सीधा असर पड़ने की संभावना है।

इसी के चलते सोया खली की कीमतों में तेजी देखने को मिल रही है, विदेशों में सोया खली की डिमांड आई है (high demand of soya oil cake) और कीमतें भी बढ़ रही है।

ब्राज़ील और अर्जेंटीना में सोयाबीन के पहले से ही कम उत्पादन की आशंका के बीच सोया खली की कीमतों को सपोर्ट मिलता दिखाई दे रहा है जिसका असर भारतीय बाजार (impact on indian market) पर भी देखने को मिल सकता है।

सोया खली के साथ-साथ विदेशों में सोयाबीन की कीमतों में तेजी (soyabean price hike) भी निरंतर बनी हुई है और जानकारों की माने तो सोयाबीन और मक्का उत्पादकों को आने वाले दशक में बायोफ्यूल सेक्टर से डिमांड में तेजी देखने को मिल सकती है।

सोयाबीन का ताज़ा भाव

इथेनॉल के उत्पादन में भी मक्का और सोयाबीन का उपयोग किया जाता है जिससे भविष्य में और ज्यादा तेजी देखने को मिल सकती है।

सरसों में मंदी के बाद फिर से हुआ तेजी का दौर शुरू

ऑनलाइन वायदा बाजार से सरसों को निकालने के बाद एकदम से सरसों भाव में जबरदस्त गिरावट देखने को मिली थी लेकिन फिलहाल पाम तेल में बनी तेजी के कारण सरसों भी तेजी पकड़ चुकी है।

जयपुर में फिलहाल 42 फ़ीसदी कंडीशन वाली सरसों का भाव ₹7600 प्रति क्विंटल चल रहा है और देश भर में सरसों की दैनिक आवक 80000 बोरी से बढ़कर एक लाख बोरी की रही।

उत्तर भारत के कई क्षेत्रों में मौसम खुलने से सरसों की तेजी पर ब्रेक लग गया है और पिछले हफ्ते राजस्थान सहित उत्तर भारत के कई राज्यों में बारिश होने से सरसों की फसल में देरी होने की संभावना के कारण तेजी रही थी।

अगर मौसम बढ़िया रहा तो सरसों की फसल का अच्छा विकास होगा और समय पर आवक बढ़ने की संभावना बढ़ेगी।

फिलहाल सरसों के भाव high होने के कारण प्लांट वालों ने खरीद भी कम कर दी है और मांग सुस्त रहने से सरसों के साथ तेल और खली में 2.5 फ़ीसदी तक की गिरावट रही।

कांडला पोर्ट जनवरी डिलीवरी $1400 प्रति टन दर्ज किया गया एवं सोया तेल गम जनवरी डिलीवरी 1404 डॉलर प्रति टन पर बिक रहा है।

भारतीय बाजार में कांडला पोर्ट पर क्रूड पाम तेल (crude pam oil price) ₹1100 और ₹7150 प्रति 10 किलो बिक रहा है जबकि बीते सत्र में ₹1110 और सोया तेल (soya oil rate) ₹1145 प्रति 10 किलो बिका था।

जनवरी 2022 में गेहूं की तेजी मंदी लेटेस्ट रिपोर्ट

किसानी गेहूं की आवक घटने से वेयरहाउस के माल में तेजी आई है, मंडियों में आवक की कमी के साथ-साथ क्वालिटी की भी कमी चल रही है जिसके चलते अच्छी क्वालिटी वाले माल की किल्लत और मजबूत मांग के चलते गेहूं में आज मजबूती देखी गई।

Check :- गेहूं भाव today

मध्य प्रदेश और बिहार में गेहूं के भाव ₹50 प्रति क्विंटल तक उछल गए, वेस्ट यूपी में भी गेहूं भाव में मजबूती देखी गई हालांकि दूसरे राज्यों की मंडियों में भाव पिछले स्तर पर रहे लेकिन व्यापारियों का कहना था कि बाजार सेंटीमेंट मजबूत बने हुए हैं क्योंकि अच्छे वालों की कमी के बीच मांग बेहतर दिखाई दे रही है।

मंडियों में किसानों के गेहूं की क्वालिटी सीजन के आखिरी दौर में काफी कमजोर है इसलिए वेयरहाउस गोदामों में रखे व्यापारियों और स्टॉकिस्टओ के गेहूं में ज्यादा मांग निकल रही है।

बेगूसराय में वेयरहाउस गेहूं के भाव में ₹30 की तेजी देखने को मिली और गेहूं का मंडी भाव ₹1940 से बढ़कर ₹1960 तक पहुंच गया एवं वेयरहाउस गेहूं का भाव ₹30 बढ़कर ₹2030 प्रति क्विंटल पर पहुंच गया।

गेहूं की मंडियों में उपलब्धता सीमित (limited arrival of wheat in APMC markets) रहने के कारण bhavo को मजबूती मिल रही है और फ्लोर मिले भी उनसे ऊँचे भाव पर माल खरीदने को तैयार बैठे हैं।

मध्यप्रदेश में कई दिनों की स्थिरता के बाद आज गेहूं भाव (wheat price) में हलचल दिखाई दी और मिल क्वालिटी का गेहूं ₹50 प्रति क्विंटल बढ़कर ₹2050 हो गया एवं लोक वन और 1544 जैसी प्रीमियम वैरायटी के गेहूं में भी ₹50 तक की मजबूती देखने को मिल रही है।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी गेहूं के भाव में 10 से ₹15 की तेजी दर्ज की गई और वेस्ट यूपी में फ्लोर मिलों की अच्छी मांग निकलने के कारण भाव को मजबूती मिली।

कानपुर सहित पूर्वी उत्तर प्रदेश में पिछले हफ्ते के मुकाबले गेहूं के भाव में अच्छी तेजी देखने को मिल रही है।

दिल्ली में गेहूं का भाव और मांग – जनवरी 2022 अपडेट

दिल्ली में (wheat price) गेहूं के भाव ₹2180 से ₹2200 प्रति क्विंटल पर स्थिर चल रहे हैं, हालांकि दिल्ली की फ्लोर मिलों की मांग जबरदस्त निकल रही है फिर भी भागों में स्थिरता है।

दिल्ली में इन दिनों लॉरेंस रोड पर गेहूं की आवक 8000 बोरी से घटकर 6000 बोरी तक रही है।

दिल्ली की सभी मंडियों और डायरेक्ट मिलो और चक्की वालों की सप्लाई जोड़कर दिल्ली में गेहूं की आमदन 20,000 से 22000 बोरी होने का अनुमान लगाया गया है।

Check latest price : Narma Ka Bhav

गेहूं की कमजोर आवक और हल्की क्वालिटी दिल्ली में भी देखने को मिल रही है।

Share on:

Author : Pankaj Sihag

मैं पंकज सिहाग, खेती किसान ब्लॉग का संस्थापक राजस्थान के हनुमानगढ़ जिला से एक गांव के किसान का बेटा हूँ जिसका उद्देश्य किसानों व सभी ज़रूरतमंदो को रोजाना के मंडी भाव और खेती-बाड़ी से जुड़ी जानकारियाँ उपलब्ध करवाना है । "जय जवान जय किसान"

1 thought on “सोयाबीन, सरसों, गेहूं में तेज़ी बनेगी – जनवरी 2022”

Leave a Comment

An online web portal where articles on government schemes, farming & agriculture are published in hindi. Note : It is not affiliated to government.

CONTACT US

Mail To : contact@khetikisaan.com

PH : +91-8742853342