रबी फसल MSP 2022-23 Rabi Crops

रबी फसल MSP 2022-23

हाल ही में भारत सरकार ने आने वाले रबी सीजन (Rabi Season 2022) के लिए रबी फसल MSP 2022-23 पर अपनी मुहर लगा दी है। एमएसपी यानी मिनिमम सपोर्ट प्राइस पर बिकने वाली रबी फसल (Rabi Crops) जैसे गेहूं , जौ , चना , मसूर , सरसों , कुसुम के भाव में बढ़ोतरी की गई है जिसकी जानकारी आपको नीचे दी गई है।

न्यूनतम समर्थन मूल्य : MSP 2022-23 Rabi Crops List

एमएसपी को हिंदी भाषा में न्यूनतम समर्थन मूल्य बोला जाता है और इसे अंग्रेजी में Minimum Support Price यानी MSP बोलते हैं।

रबी फसल MSP 2022-23
गेहूं MSP ₹2015
जौ₹1635
चना ₹5230
सरसों ₹5050
कुसुम ₹5441

2021-22 के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर यदि एक नजर डाली जाए तो सरसों एवं मसूर की एमएसपी में अधिकतम ₹400 की वृद्धि की गई है।

गेहूं (Wheat MSP) के समर्थन मूल्य में केवल ₹40 और जौ एमएसपी में मात्र ₹35 की सबसे कम वृद्धि हुई है।

रबी फसल MSP 2022-23 के नवीनतम जारी आंकड़ों के अनुसार चना में ₹130 और कुसुम के न्यूनतम समर्थन मूल्य में ₹114 की वृद्धि भारतीय सरकार ने की।

पिछले कई वर्षों से भारतीय सरकार प्रत्येक वर्ष रबी और खरीफ फसलों के लिए एक न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी करती है जिसके तहत यह माना जाता है कि किसान अपनी फसल को इस भाव में सरकार को बेच सकते हैं।

सरकारी कागजातों और आंकड़ों की माने तो मौजूदा सरकार इन भावों में किसान की फसल को खरीदने के लिए बाध्य होती है लेकिन धरातल का हाल तो हम सभी जानते हैं कि कितना कुछ सरकार द्वारा इन भावों पर खरीदा जाता है।

किसान के लिए क्या महत्व है रबी फसल MSP 2022-23 का

भारत के हरियाणा और राजस्थान में गेहूं की अच्छी पैदावार देखने को मिलती है और पिछले कई वर्षों से लगभग राज्यों का संपूर्ण गेहूं सरकार द्वारा निर्धारित रबी फसल MSP 2022-23 के अनुरूप ही खरीदा जाता है।

गेहूं को छोड़कर यदि अन्य फसलों की बात करें तो राजस्थान में चना एवं सरसों की सरकारी खरीद बहुत ही कम देखने को मिलती है।

पिछले 2 वर्षों से हरियाणा की खट्टर सरकार हालांकि संपूर्ण सरसों एमएसपी के ऊपर खरीद रही है, और इस साल तो किसान को अपनी सरसों न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचने की आवश्यकता ही नहीं हुई।

सरकार द्वारा निर्धारित रबी फसल MSP 2022-23 में पिछले साल की ही तरह है गेहूं न्यूनतम समर्थन मूल्य में कोई खास बढ़ोतरी देखने को नहीं मिली है।

प्रत्येक वर्ष भारत के कृषि मंत्रालय द्वारा फसलों की लागत का आंकलन करके न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी का प्रस्ताव दिया जाता है जिस पर कैबिनेट की मुहर लगने के बाद उसे लागू कर दिया जाता है।

कृषि मंत्रालय ने इस बार रबी फसल MSP 2022-23 के लिए गेहूं की एमएसपी ₹1975 से बढ़ाकर ₹2015 प्रति क्विंटल एवं जौ के न्यूनतम समर्थन मूल्य को ₹1600 से बढ़ाकर ₹1635 प्रति क्विंटल करने की मांग की थी जिसको आज कैबिनेट ने मंजूरी दे दी।

# पिछले वर्ष का न्यूनतम समर्थन मूल्य।

# ऑफिसियल वेब पेज MSP.

2021 में सरसों का न्यूनतम समर्थन मूल्य ₹4650 प्रति क्विंटल था जिसे इस बार ₹400 की बढ़ोतरी के साथ ₹5050 प्रति क्विंटल कर दिया गया।

रबी फसल MSP 2022-23 , Rabi Crops MSP , गेहूं न्यूनतम समर्थन मूल्य 2022 , सरसों एमएसपी , चना का मिनिमम सपोर्ट प्राइस।

Similar Posts

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *