कॉटन सरकारी रेट 2020-21

कॉटन सरकारी रेट 2020-21 पर बेचने के लिए कटवाना होगा टोकन

सरकारी योजनाएँ

हनुमानगढ़ : आज 2 अक्टूबर 2020 को जारी हुई एक सूचना के अनुसार जिले के किसानों को इस बार अपने नरमा कपास की फसल यानी कि कॉटन सरकारी रेट 2020-21 पर बेचने के लिए नजदीकी कृषि उपज मंडी समिति से टोकन कटवाना होगा।

यहां पर आपको अपनी नरमा कपास की फसल को भारतीय कपास निगम (CCI) को MSP 2020-21 पर तुलवाने बाबत टोकन कटवाने हेतु आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी दी गई है।

2020-21 में नरमा कपास की फसल बेचने के लिए टोकन कटवाने हेतु आवश्यक दस्तावेज

हो सकता है आप जानते हो या फिर आपको नहीं पता हो तो मैं बताना चाहूंगा कि हनुमानगढ़ जिले में नरमा और कपास की सरकारी खरीद भारतीय कपास निगम द्वारा 6 अक्टूबर 2020 से शुरू हो रही है।

यह पढ़ें : रबी फसल न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP 2021-22)

आपको अपनी फसल यानी कि कॉटन सरकारी रेट 2020-21 पर बेचने के लिए टोकन कटवाने हेतु निकटतम कृषि उपज मंडी समिति कार्यालय में जाना होगा।

टोकन हेतु निचे दिए गए तीन आवश्यक दस्तावेज की फोटोकॉपी लेकर कृषि उपज मंडी समिति कार्यालय में जाएं :-

  1. किसान का आधार कार्ड
  2. आधार से जुड़ा मोबाइल नंबर
  3. गिरदावरी प्रमाण पत्र

हनुमानगढ़ जिले में भारतीय कपास निगम द्वारा नरमा और कपास की सरकारी खरीद हेतु कृषि उपज मंडी समिति हनुमानगढ़ , रावतसर , पीलीबंगा और संगरिया के मार्केट कमेटी कार्यालय को खरीद केंद्र बनाया गया है।

आपको अपने नजदीकी मार्केट कमेटी कार्यालय पर जाकर पहले टोकन कटवाना होगा और उसके बाद आपको तौल दिनांक की जानकारी दी जाएगी।

मंडी समिति के कार्यालय द्वारा प्रदान की गई तौल दिनांक पर ही आपको इनके द्वारा बताई गई फैक्टरी पर अपनी नरमा और कपास की फसल लेकर आनी होगी।

ध्यान रहे जिस दिन आप की फसल का तोल होगा तो खरीद हेतु आपको कुछ आवश्यक दस्तावेजों की फोटोकॉपी साथ में लेकर जानी होगी जिसकी जानकारी नीचे दी गई है।

कॉटन सरकारी रेट 2020-21 खरीद हेतु तौल वाले दिन लेकर जाने वाले दस्तावेजों की सूचि

मार्केट कमेटी कार्यालय द्वारा आपको बताई गई फैक्ट्री पर अपनी फसल तुलवाने जाओ उस दिन आपको अपने साथ निम्न जरूरी कागज लेकर जाने होंगे।

किसान की एक फोटो – ओरिजिनल

किसान का आधार कार्ड – फोटोकॉपी

आधार से रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर

बैंक पासबुक – जिस खाते में आप अपनी फसल का पैसा मंगवाना चाहते हैं उसकी फोटो कॉपी।

गिरदावरी प्रमाण पत्र – ध्यान रहे कि आप की गिरदावरी पटवारी द्वारा प्रमाणित की हुई होनी चाहिए।

यदि आप ठेके पर जमीन की बटाई कर रहे हैं और आप अपनी फसल को MSP 2020-21 पर तुलवाना चाहते हैं तो आपके पास ₹100 के स्टांप पर ठेकानामा होना आवश्यक है।

सबसे अहम बात यह भी है कि आपको कोविड-19 की पूर्ण पालना करनी होगी जैसे कि यदि आपके पास मास्क नहीं है तो आप की फसल की खरीद नहीं की जाएगी।

नरमा और कपास यानी कॉटन का हनुमानगढ़ जिले में सरकारी रेट 2020-21 संबंधित सूचना

हनुमानगढ़ में 8% तक की नमी वाले नरमा और कपास का भाव ₹5725 प्रति क्विंटल रखा गया है।

यदि आपके द्वारा लाए गए कपास/नरमा की फसल में नमी 8% से अधिक पाई जाती है तो वह इस दर पर बिकने योग्य नहीं माना जाएगा।

हनुमानगढ़ खरीद केंद्र को छोड़कर जिले के अन्य सभी खरीद केंद्रों में नरमा और कपास का सरकारी भाव 2020-21 खरीद हेतु ₹5665 प्रति क्विंटल तय किया गया है।

किसान को अपनी फसल फैक्ट्री में सरकारी रेट पर तुलवाने पर 50 पैसे प्रति सैकड़ा तुलाई खर्च धानका को देना होगा।

इस तुलाई खर्च के अलावा कोई भी अतिरिक्त शुल्क किसान द्वारा नहीं वसूला जाएगा।

यदि कोई फैक्ट्री मालिक आपसे इस तुलाई शुल्क के अलावा अन्य कोई शुल्क वसूलता है तो आप उसकी शिकायत संबंधित मार्केट कमेटी कार्यालय में जरूर करें।

जिले की समस्त मंडियों का फिलहाल मंडी प्रांगण में होने वाली फसलों की बोली का भाव यहां से देखें : KhetiKisaan Mandi Bhav Today

Similar Posts

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *